नया साल
——–
कुछ खट्टे
कुछ मीठे
कुछ तीखे से
गुजर ही गये
हालाँतों को पीते
अपनो में जीते
बीताते ये बीता साल,,
चलो करें नये सिरे से
शुरुआत उल्लास के
साथ नये सृजन की
नये आयामों की
जिनमें भरने होंगे
हम सभी को
खुशियाँ हर हाल,,
जो बनें अपनो में
एक नया मिसाल
रहें खुशियों से भरा
अब ये नया साल।।

आवेग जायसवाल
958 मुट्ठीगंज इलाहाबाद

सुनिए ये खयबसूरत पहाड़ी गाना