Category: विविध

समाज की प्रखर पहरेदार पुलिस/Ashish Behal

समाज की प्रखर पहरेदार पुलिस पुलिस ये शब्द सुनते ही दिमाग अपने अपने ढंग से सोचना शुरू करता है। कोई बुरा आदमी होगा तो डरेगा, कोई किसी मुसीबत में होगा तो उसमें होंसला जगेगा, माँ-बहन किसी सुनसान सड़क पर सुनेगी तो उसमें हिम्मत जुटेगी।...

Read More

सच्ची और दुःखद घटना/उत्तम सूर्यवंशी

घटना मेरे जीवन की —-///————- सबको प्रणाम सबको नमन बहुत ही दुखी ह्रदय के साथ आज मैं आप सभी के साथ अपने जीवन की सबसे बड़ी घटना शयर कर रहा हूँ । क्योंकि सुख और दुख के बिना यहाँ कोई नहीं होता । सब इससे...

Read More
Loading