Category: शहीदी दिवस

शहीदों को नमन/नंद किशोर परिमल

घाटी के नमकहरामों घाटी के नमक हरामों, शर्म करो कुछ शर्म करो। जिस थाली में तुम खाते, उसमें मत छेद करो। खाते माल भारत देश का, गुण गाते पाकिस्तान का। पाकिस्तान की भांति ईमान धर्म नहीं तुम सबका। यह कैसी नेतागिरी, अपने बच्चों को...

Read More

शहीदों को नमन/राम भगत नेगी

कश्मीर में पत्थर वार कब तक बहुत हुवा अब सेना पर पर पत्थर वार सोचो लो अब सेनिकों का भविष्य भारत सरकार लेकिन न ही अवार्ड वापसी हुई ना ही पत्थर वार पर विरोध हुवा न किसी की बीवी की देश छोड़कर जाने की इच्छा हुई लाचारी से आज कायरता दम...

Read More

शहीदों को नमन/ संजीव सुधांशू

मिट गई जो वतन पे सलाम उन कुर्बानियों को, सेहरा शहादत का पहना सलाम उन जवानियों को | जिन्हें सुन ठंडा पडा लहू भी खौल उठता है, बाहें फडक उठें जिन्हें सुन सलाम उन कहानियों को | तिलक कर भेजा सरहदों पर देश रक्षा खातिर सुहाग, गर्दिश...

Read More

शहीदों को नमन/पं अनिल

😡भ्रम टूटेगा 😡 बाहर के गद्दारों से तो लड़ लेंगे , अंदर के ग़द्दार सुनहरे भेष में हैं । हम लड़नें का जज़्बा लिये खड़े सरहद , ये तो होड़ लगाये आपस रेस में हैं ।। उम्मीदों का दीप नहीं मद्धम होगा , दुश्मन के चालों का अंत स्वयं होगा...

Read More

शहीदों को नमन/सुरेश भारद्वाज

जननी जन्म भूमि रक्षक स्वदेश हित त्याज्य सर्वस्व, सुविधा- वैभव- सन्मान रिपु संहारक केशव सैनिक अहं रहित शत शत प्रणाम हे तपस्वी! ओजस्वी! कर्मठ तृप्त गम्भीर निश्छल जीवन मानवीय तत्व अभयदानी अति दुर्लभ तेरा बर्णन धैर्य शौर्य सखा जाके...

Read More

शहीदों को नमन/नंद किशोर परिमल

देश है पुकारता भारत मां के वीर जवानों, देश के प्यारे न्यारे परवानों। आगे बढ़ कर देश बचाओ, देश तुम्हें पुकारता_देश तुम्हें पुकारता। परिवर्तन की राह पर बढ़ चला है_देश तुम्हारा, रिश्वतखोरी, सीनाजोरी, भुखमरी और लाचारी, मिटाने को यह...

Read More

शहीदों को नमन/उत्तम सूर्यवंशी

शहीदों को नमन//”” नमन है उन वीर, शहीद जवानों को, जिन्होंने लड़ मिट कर भी, सुरक्षित रखा .. देश ओर इन्सानों को……!! वो डरे नहीं क़ुर्बानियों से, डट कर सामना किया दुश्मनों से वो माटी में मिल गये, अपनी ज़मीं , की ख़ातिर...

Read More
Loading