शीर्षक= हि+मा+च+ल…
इसको मैने किस प्रकार लिया है गौर करें :-
हि=माने
हिम खन्डो से सुशोभित,
धौलाधार, पीरपंजाल का नज़ारा…

मा= माने
मेहनतकश,ईमानदार भोले भाले लोग यहाँ के…

च= चंचल सी कल-कल कर
इठला कर बहती नदियां…
रावी,व्यास,सतलुज का अद्भुत नज़ारा…

ल=माने
लाल-लाल सेबों के बागों से सुशोभित,
देवों- वीरों की भूमि से सुशोभित, हिमाचल का हर किनारा…
कभी आओ देखो,के,
कितना प्यारा है हिमाचल हमारा …
कितना प्यारा है हिमाचल हमारा…

राहुल सुन्दन
चुबाडी, जिला चम्बा (हि.प्र.)
9882248097

Sent from BharatKaKhajana