गद्दारों को जल्दी जल्दी ढ़ेर करो

अरे हिंदुस्तानी हो तुम, जिनकी विरासत लक्ष्मी बाई, सुभाष और भगतसिंह हैं।
हिंदुस्तानी हो तुम जिन के आदर्श, बापू गांधी, पटेल और साबरकर हैं।
इन आतंकवादियों को जो गीदड़ हैं, मार मुकाओ और भगाओ पाकिस्तान को।
चुन चुन कर मारो, धुन धुन कर धुन दो, इन सब को अब मार मुकाओ।
गिन गिन कर बदला लो और इक इक को ढ़ेर करो।
एक के बदले दस को मारो, वीर सिपाही हो न अब देर करो।
बहुत हुआ इन गद्दारों ने देश को है बर्बाद किया।
जिस पत्तल में खाते थे यहउसी में है छेद किया।
रहम के काबिल हैं नहीं ये, अब इन पर मत विश्वास करो।
मार मुकाओ अब इन सबको, न अब इनसे तुम और डरो।
देश पुकारे वीर जवानों, हथेली पर तुम प्राण धरो।
चुन चुन कर इन सबको मारो, न अब और जरा भी देर करो।
कश्मीर हमारा हम कश्मीर के, और अमरनाथ हैं साथ हमारे
परिमल पूरा देश पुकारे, वीर सपूत हो आप हमारे।
आगे बढ़ो और सब गद्दारों को, जल्दी से जल्दी ढ़ेर करो।।
नंदकिशोर परिमल, गांव व डा. गुलेर
तह. देहरा, जिला. कांगड़ा (हि_प्र)
पिन. 176033, संपर्क. 9418187358