ढोंगी,दुष्ट,कपत्ते देखे/ डॉ पीयूष गुलेरी 

                    ***बाबे**

                                   डॉ पीयूष गुलेरी 

ढोंगी,दुष्ट,कपत्ते देखे,हमने कितने सारे बाबे ।

चाकू,छुरियां,कैंची नश्तर बड़े भयंकर आरे बाबे
                      **

एकहाथईश्वरने पकड़ा दूजागुरू के हाथ हैभाई।

सौंपो तनमनधनसबअपनाकरतेखूबइशारे बाबे।

                       **

करते दानीबनकरअर्पण,जनताकेधनकोहैंनेता।

आलीशानबनजाताआश्रम,कितनेखूबहमारेबाबे

                      **

बाबाओंकीजादूनगरी,ऐशोइशरतइनकाधंधा ।

लूटरहेहैंजबरनअस्मत,झिलमिलझिलमिलतारे

                                                     बाबे।।

                       **

ऐक्टरहैंडायरैक्टररुकते,पी-ऐम,सी-ऐम नेता

                                                  झुकते।

कुछभीकरनेसेनचुकते,भैय्या!तभीतुम्हारेबाबे।।

                       **

इज्ज़तलूटी,दौलतपाई,लोगोंकी धरतीहथियाई।

दोषी,चोर,उचक्केबेशक,कहतेभक्त,हमारेबाबे।।

                        **

करतेहैं लीलाएं नाना,धनदौलतहैखूब खजाना। 

साथ्वियोंस॔गऐक्टिंगकरतेफल्मीबनेसितारेबाबे।।

                      **

जाता नेताओं का जत्था,साष्टांग हो टेकेमत्था।

राजनीतिमुट्ठीमें इनकी,गूंजें बनकर नारे बाबे।।

                      **

आलीबाबा रोरोकहता मेरा तो था’चोरचालीसा’।

   कोटि कोटि चोरों केनेता,येतोहैं हत्यारे बाबे ।

                         **

राम-राम येकैसेस्वामी,निर्मल बनतेशर्मन आती।

ऐंठरहेहैंठनकरपैइया,थुलथुलभरकमभारेबाबे।।

                      **

ईश्वरकाहैअद्भुतफंडा,शोरनकरताउसकाडंडा।

फोड़दियाजबउसनेभंडा,रोरोकरतब हारेबाबे।।

                        **

देखी!इनकी नेक कमाई,पहुंच गयेजेलोंमेंभाई।

ख़ूनी मर्मांतक हत्यारे,कितने प्यारे-प्यारे बाबे।।

                 ***************

                    अपर्णा-श्री,हाऊसिंग कालोनी,

                चीलगाड़ी,धर्मशाला (हिमाच प्रदेश)

                     पिन  176215

             मोबाइल 9418017660

         दू भा 01892226224  

        _________________________

 

One comment

  1. बाबेयां उप्पर खरी खरी चोट। बड़ी छैल कविता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *