निभाना ना आये तो ..

निभाना ना आये तो
मत दोस्ती करो

निभाना ना आये तो
मत दिल किसी का दुखाओ

निभाना ना आये तो
मत किसी को हसीन सपने दिखाओ

निभाना ना आये तो
मत आँसु बहाओ

निभाना ना आये तो
मत पास बुलाओ

निभाना ना आये तो
मत किसी के विश्वाश को दिल में जगाओ

कोई टूट रहा है
कोई छूट रहा है विश्वास के बंधनों से

और कोई इत्मीनान से
विश्वास का तमाश देख रहा है

राम भगत किन्नौर
9816832143