हिन्दी है शान मेरी हिन्दी महान मेरी,
हिन्दी हमारे भारत की पूर्ण लालिमा है।

हिन्दी है मातृभाषा पथ दीप्त की अभिलाषा,
साहित्य गगन की जो नव भाव भंगिमा है।।

हिन्दी प्रबल हमारी हिन्दी सबल हमारी,
हिन्दी है राष्ट्रभाषा मधुभाव दिव्यता है।
हिन्दी विमल हमारी हिन्दी नवल हमारी,
हिन्दी है सूर तुलसी सद्काव्य भव्यता है।।
हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
डा.मीना कौशल