हिंदी दिवस पुनर्पाठ
पूरा वर्ष भले सो जाओ
डा.पीयूष गुलेरी
आओ,आओ भाइयों आओ
हिंदी का झगड़ा निपटाओ
सब मिलकर इक स्वर में कह दो
‘शासन में अब हिंदी लाओ’
हिंदी दिवस है इसे मनाओ।
हिंदी_प्रैमी सब मिलकर के____
मियां मिट्ठू बन गाने गाओ
तुक्तक, कविता, गीत बनाओ
अथवा झाड़ो भाषण -भूषण
यह सब निर्भर है तुम पर ही
किस स्तर का आयोजन करते
एक दिवस ही तो आता है
वर्षांतर में।।
खूब जोश से इसे मनाओ
‘ टस से मस नहीं होने वाला’
चाहे रोओ अथवा गाओ
या ऊंचे-ऊंचे चिल्लाओ
पर इस पर सब ही सहमत हैं
‘हिंदी-दिवस ‘ है इसे मनाओ।
फिर तुम बेशक चाए पीकर
अथवा चाट समोसे लेकर
या फिर दही पकौड़ी खाकर
पूरा वर्ष भले सो जाओ।।
******
अपर्णा-श्री हाउसिंग कॉलोनी
‌ चीलगाड़ी धर्मशाला हिमाचल-प्रदेश
पिन १७६२१५
मो.९४१८०१७६६०
दू भा. ०१८९२२१६२२४

.