कह्जो घटोआं-नांअं/डॉ पीयूष गुलेरी /

ग़ज़ल
कह्जो घटोआं-नांअं
डॉ.पीयूष गुलेरी
लग्गै बड़ा घटोआं-नांअं ।
यारा बड़ा बटोआं -नांअं ।।१।।
ढेरा -ढेरा जा क:रना ।
मेत्तैं कह्जो कटोआं – नांअं !! २!!
झूठोंझूठ पतारी – नैं ।
चिकड़ैं कैंह् लबड़ोआं -नांअं।।३!!
सस्सर भाटियां खा-दा ओह् !
तूं कैह्जो – बकल़ोआं -नांअं ।।४!!
अपणे कर्मां खा -क:रदा !
तूं कैह्जो झरड़ोआं -नांअं !!५!!
हेरी बांकियां नारां -जो ।
मितरा! कह्जो लुटोआं -नांअं !! ६!!
जल़ब -जल़ेबा जाल़ बुरा !
मेत्तैं कह्जो छंह्गोआं -नांअं !!७!!
झोट्टै हन घल़ोआ -दा ।
तूं कैह्जो दरड़ोआं -नांअं !!८!!
एह् -तां रैह्मत ठौकरे -दी !
कैह्जो बड़ा जल़ोआं -नांअं !!९!!
दुष्कर्मां -दे बंनह्णां- नैं !
अपणैं -आप जुटोआं -नांअं !!१०!!
खांदेयां -जींदेयां दिक्खी – नैं !
तूं कैह्जो भरड़ोआं – नांअं !!११!!
अपणे -अपणे भाग यरा !
मेया! कह्जो पटोआं -नांअं !!१२!!
” पीयूषे” जो दिखदेयां – ई !
तूं कै:स्सी मरड़ोआं- नांअं !!१३!!
*************
अपर्णा-श्री हाऊसिंग बोर्ड कालोनी
चील गाड़ी धर्मशाला हिमाचल-प्रदेश
पिन १७६२१५
मो.९४१८०१७६६०
दू .भा.०१८९२२२६२२४

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *