पहाड़ी म्हारी पछाण
भाईओं ते भैणों असे सारे जणे सोचदे जे अंग्रेजी ता म्हारी सोतेली माई साई है ते जेड़ी हिन्दी है से सकी माई साई पर इक गल दसो मिंजो जे असी अपन्णी माई जो ज्मीनहे का बाद सारे का पैले माँ बोलया थिया की अमा
दिखो अज इसी थोड़ा मता पड़ी जे गे ता इसरा ऐ मतलब थोड़ी है जे अबे असी पहाड़ी बिच गल बी नी करी सकदे असी सोचदे जे अबे ता असी साभ बणी गे ता फिरि बी जे भाषा नी बदलगे ता अनपढ़ हि रेही जाणे पर असि ऐ गल कीजो भूलि जान्दें जे म्हारजो साभ ताक पुजाया बी ता इसी ने इ है|
घरे जांदे ता माई जो बोलदे जे मेरे दोस्त आंगे ता हिन्दी बोलणी नि ता मेरी बेज्ती हुंदी ओए जिनी म्हारजो एई पहाड़ी बोली बोली इतना बडा झोटा बनाई रख्या अबे तिसेरी भाषा कने म्हारजो सरमा ल्ग्दी| ऐ बड़ी भरी बुरी गल है जे एही सहाब चलदा रेहा ता इक दिन ता इसी बोलणा अमा अबे अंग्रेजी बोल नीता चुप बै| जिनी म्हारजो बोलणा सिखाया असी तिस जो ही गूंगा बनाई रखणा|
भाइयो जे मजा खिंदा रा ते खंधोलुआं रा था से मैट रा थोड़ी है ता| जिनी पहाड़ी भाषा नी बोलणी से बी कोई मणु होएया मत भूलो जे असी हले भी होरनी का अलग हिना पर जे अस्सी अपणी ऐ अलग खूबी बचाई करी नी रखी ता म्हारे बीच ते बडे बडे अंग्रेजा बिच कोई फर्क नि रैणा इधेर्तइं अपनी भाषा पे अपणी संस्कृति पे सरम मत करो ऐ म्हारी पछान है जे असी हिना असली पहाड़ीए| इसी बजह कने हर साल बहार दे लोग आंदे ते सब परशानी भुली करी मस्त होई जांदे तिन्हा जो जे बडी बडी गला वाले लोग चाहेदे हुँदै ता तिन्ह इते नी आना था पर से इते आंदे म्हारा कल्चर दिखना न कि साभा वाला चाल चलन|
मैं ऐ नी बोल्दला जे भई बस पहाड़ी ही बोलो ते होर बाकि सब किछ छड़ी देओ मेरे बोलणे दा मतलब है जे तरकी करो पर अपणी जड़ा जो मत भूलो एही म्हारी पछाण है| जिसेरी पछाण गुम होई जाओ से जादा धियाड़ी नी टिकदा| सोचो भाइयो सोचो इसका पैले जे मती हाण होई जाओ| इयाँ नी हो जे असी इसियो इतना ओउलेरा रखन जे ऐ म्हारे ताईं पख्ली होई जाओ|
अपणे छोकरुआं ते छोकरियाँ जो पहाड़ी बिच गप्पा लाणे का मात रोको नीता बुढी करी तिनाह म्हारे जो रोकणा फिरि जे क्या लगी रेंधे इथू उठू, इते उते, इड्ही उड़ी लाणा सीधे यहाँ और वहाँ बोला करो| फ़ैसला म्हारा है असी क्या चाहंदे जे आज असी चाहन्गे सेही काल होणा|

युद्धवीर टंडन (कनिष्ठ आधारभूत शिक्षक रा. प्रा. पा. अनोगा) गावं तेलका जिला चम्बा हि. प्र. पिन कोड 176312 मोब. 78072-23683

जय हिन्द …