सत्य प्रभू जी जाओ ?

जाओ जाओ सत्य प्रभू जी मेरे पास न आओ ।
जो तुमको पूजे प्रभु जी उसे नींबू नमक चटाओ।।

सत्य बोल कर मास्टरजी से हो गई खूब कुटाई ।
इसी वजह से आगे फ़िर से सरकी नहीं पढ़ाई ।।
जो विद्दार्थी बोले साचा फ़िर उसको कुटवाओ ।
जो तुमको • • • •

सत्य बोलकर पत्नी जी से रोटी भी नही पाई ।
थोड़ा माखन झूठ मल दिया चाय पकौड़ी खाई।।
पहले अब तुम साँचा गुरूवर जी हमें मिलाओ।
जो • • • •

सत्य बोलकर बेचारे जी अब तक हैं चपरासी।
बनी हवेली झूठे जी की बोम्बे दिल्ली काशी ।।
सुनि सुनि आवत हाँसी हमको और नहीं भरमाओ।
जो • • • • •

सत्य बोलने वाला दर दर फिरता मारा मारा।
ये भी सच है सत्य सत्य जीता है,नहीं है हारा।।
फ़िर जीतेगा फ़िर जागेगा यदि मिल हाथ बढाओ।
आत्मसात हो जायेगा यदि सत्य गोद पा जाओ ।।

?सुप्रभातम्?
पं अनिल
अहमदनगर महाराष्ट्र
? 8968361211