दोस्त / वी पी ठाकुर

दोस्त
दोस्त खुदा होता है,
ये शब्द सच लगते हैं,
जब दोस्त जुदा होते हैं,
आंखें भर आती है,
दिल के ज़ख्मों में हरियाली आ जाती है,
जब दोस्तोँ से जुदाई याद आती है|
युगों तक दोस्ती की हस्ती रहेगी,
दोस्ती की बस्ती हमेशा हंसती रहेगी,
हर जुदाई के साथ ,
याद ये शब्द आते रहेंगे,
दोस्त खुदा होता है|

वीपी ठाकुर ,
कुल्लू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *