जय हो गूगा बाबा लेयां आई अज्ज भनाह्ड़ियां।
भगत खड़ोते तेरे द्वारे सुणयां अरजां स्हाड़ियां।।…………….

अम्मां रोट बणाई बोल्लै चल्ला गूग्गें जाणा।
पूजा थाळ सजाई बोल्लै चल्ला गूगें जाणा।।
चल्लण निक्क-नियाणे कन्ने कन्ने चल्लण लाड़ियां।।
जय हो गूगा छतरी लेयां आई अज्ज भनाह्ड़ियां।
भगत खड़ोते तेरे द्वारे सुणयां अरजां स्हाड़ियां।।…………….

जीजू कंडू तेरे बाबा रखयां हत्थ देई के।
गंड गळीटां गूक्खू गळने आए लूण लेई के।।
टब्बर टेरा डंगर बच्छू मेह्रां रैह्ण तुआड़ियां।
जय हो जाहरवीरा लेयां आई अज्ज भनाह्ड़ियां।
भगत खड़ोते तेरे द्वारे सुणयां अरजां स्हाड़ियां।।…………….

तेरे वार बड़े मनमोह्णे बाबा रौणक लाइती।
फेरी देइ भघारा खाह्दा कन्ने प्यास प्याइती।।
बख्शी देयां भुल्लां चुक्कां खुह्ञ्जां गुह्ज्जां गाढ़ियां।
जय हो गूगा छतरी लेयां आई अज्ज भनाह्ड़ियां।
भगत खड़ोते तेरे द्वारे सुणयां अरजां स्हाड़ियां।।…………….

बापू अम्मां दोएं हस्सण टबरे सइते आइके।
मत्था टेकी ओरा पाई कन्ने शीश नवाइके।।
नक नक लीह्कां कड्ढी बोलण होण कबूल भनाह्ड़ियां।
जय हो गूगा बाबा लेयां आई अज्ज भनाह्ड़ियां।
भगत खड़ोते तेरे द्वारे सुणयां अरजां स्हाड़ियां।।…………….

जय गूगे बाबे दी।

नवीन शर्मा
गुलेर-कांगड़ा
9780958743